हिन्दुस्तान पर मुगलों ने कई सौ साल तक राज किया था।

इतिहास को पसंद करने वाले मुगल काल की हर बात जानने के लिए हमेशा उत्सुक रहते हैं.

पुर्तगाली व्यापारी मैनरिक ने भी मुगल शासन पर किताब लिखी है.

जिसमे बताया गया है की शाहजहां भी अपने पूर्वजों की परंपरा को आगे बढ़ाते हुए हरम में अपनी बेगम और रखैलों के साथ खाना खाता था.

मुगल शासक और उनके करीबियों को खाना किन्नर परोसते थे.

खाना बनाने से पहले शाही हकीम तय करता था कि क्या-क्या व्यंजन बनेंगे.

उन्होंने अपनी किताब में लिखा है कि मुगलों के शाही व्यंजन रोज तय होते थे. इसका पूरा जिम्मा हकीम पर होता था.

हकीम शाही भोजन में ऐसी चीजों और औषधियों को शामिल करते थे, जिससे मुगल शासक स्वस्थ रहे और ताकतवर रहे.दा परेशान हुए.