पहला चंद्र ग्रहण 5 मई, शुक्रवार को लगने जा रहा है.

सूर्य ग्रहण की तरह ही चंद्र ग्रहण भी एक खगोलीय घटना है.

जब चंद्रमा और सूर्य के बीच पृथ्वी आ जाती है, तो चंद्र ग्रहण की स्थिति बनती है.

यह चंद्र ग्रहण रात में 8 बजकर 46 मिनट से शुरू होगा और मध्यरात्रि के बाद 1 बजकर 2 मिनट पर समाप्त होगा

यह एक उपछाया चंद्रग्रहण होगा

यह ग्रहण भारत में नहीं दिखाई देगा

यह चंद्र ग्रहण एशिया, यूरोप, अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया, अंटार्कटिका, प्रशांत अटलांटिक और हिंद महासागर में दिखाई देगा